close

Chabootara

Chabootara

Availability: In stock

ISBN: 9789380186641

INR 150/-
Qty

'सरकारी नौकर की स्थिति बिलकुल उस बँगले में रहनेवाले कुत्ते की तरह होती है, जिसे सबकुछ मिला हो मगर जिससे भौंकने की स्वतंत्रता छीन ली गई हो। कुत्ता बगैर खाए-पिए रह सकता है, मगर बिना भौंके उसके लिए जीना मुश्किल हो जाएगा।

close