close

Dhun Ke Pakke

Dhun Ke Pakke

Availability: In stock

ISBN: 8188140627

INR 250/-

दुनिया में हर युग, हर काल में ऐसे अद‍्भुत लोग हुए हैं, जिनके भीतर अपने देश, समाज और मनुष्य की बेहतरी का सपना था, जिसके लिए कुछ कर गुजरने की धुन उन्हें हर वक्‍त आगे बढ़ने की प्रेरणा देती रही। ऐसे लोगों में लेखक, संत, समाज-सुधारक, स्वाधीनता सेनानी और नई-नई खोजों में जुटे वैज्ञानिक सभी तरह के व्यक्‍तित्व थे।

close